Alfaaz – Muskurahat

मुस्कुराहट के नीचे गमो को छुपा कर जी रहे है हम। दूसरों की खुशियों में खुशियां दुंड कर जी रहे है हम।। लोग अक्सर कहा करते है बड़े खुश मिज़ाज हो तुम। तो जूठ बोलकर अपना अस्तित्व बचाने के लिए जी रहे है हम।। ~ दी रियलिस्ट English Translation : Hiding my pain beneath my … Continue reading Alfaaz – Muskurahat